Masik Simha Rashifal - सिंह मासिक राशिफल

Leo Rashifal

स्वास्थ्य: सिंह राशि के जातक आम तौर पर अच्छे स्वास्थ्य का आनंद लेते हैं, लेकिन मई के महीने में उन्हें अपनी सेहत के प्रति गंभीर होना होगा। मंगल, शनि और बृहस्पति का छठे भाव में संयोग होना किसी गंभीर बीमारी की शुरुआत को जन्म दे सकता है। हालांकि यदि आप समय रहते सजग रहें और आपने उचित परामर्श लिया तो, कोई भी समस्या होने से पहले ही आप उसका समाधान प्राप्त कर लेंगे। छठा भाव रोग का भाव होता है। उसी भाव में मंगल, शनि और बृहस्पति की उपस्थिति रोग वृद्धि दे सकती है। विशेष रूप से आपको आमाशय तथा बड़ी आँत और मूत्र जनन नलिका से संबंधित कोई समस्या हो सकती है या आपको शरीर में गांठ बनने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि छोटी से छोटी समस्या को भी तुरंत उपचार के लिए दिखाएं, ताकि कोई भी बड़ी समस्या उत्पन्न ना होने पाए। जिन लोगों की कुंडली में रोग कारक ग्रहों की दशा चल रही होगी, उन्हें इस प्रकार की समस्यायें विशेष रूप से प्रभावित करेंगी।

कैरियर: करियर के क्षेत्र में दशम भाव में अपनी राशि का शुक्र काफी बेहतरीन परिणाम देगा और पूरे महीने शुक्रिया यहीं स्थित रहकर आपको कार्यक्षेत्र में सिरमौर बनाएगा। वहीं नवम भाव में सूर्य की उपस्थिति से भाग्य भी आपके साथ खड़ा होकर आपको मजबूती देगा। इसके बाद जैसे ही सूर्य का गोचर महीने के उत्तरार्ध में दशम भाव में होगा, जहां पहले से ही शुक्र विराजमान है तो, आपकी कुछ लोगों से कंट्रोवर्सी हो सकती है। आपको इसमें पड़ने से बचना चाहिए, तभी स्थिति बेहतर रहेगी। छठे भाव में मंगल, शनि, बृहस्पति की स्थिति आपको कुछ विरोधियों का सामना करवाएगी, लेकिन वे आपके सामने हार ही मानेंगे, जीत नहीं पाएंगे। इस दौरान शुक्र की कृपा से ही आपके सहकर्मी भी आपका सहयोग करेंगे। व्यापार के सिलसिले में इस दौरान कुछ हानि उठानी पड़ सकती है। इसलिए कोई बड़ा निवेश करने से इस दौरान बचें और अपनी योजनाओं को दोबारा जांच लें कि कहीं कोई कमी तो नहीं रह गई है।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्रेमी युगल को इस महीने थोड़ा धैर्य का परिचय देना होगा और एक दूसरे पर विश्वास रखते हुए अपने लव लाइफ को धीरे-धीरे आगे बढ़ाना होगा। पंचम भाव में उपस्थित केतु विभिन्न प्रकार के शक को जन्म दे सकता है। इसके अतिरिक्त पंचम भाव का स्वामी बृहस्पति छठे भाव में बैठकर पीड़ित अवस्था में है। ऐसे में प्रेम संबंधों में दिक्कत आ सकती है। या तो आपका प्रियतम बीमार पड़ सकता है या आप दोनों के बीच ग़लतफहमी बढ़ सकती है। इसलिए यदि किसी भी ऐसी स्थिति का निर्माण हो तो, दोनों साथ मिलकर रहें। एक दूसरे की बात और भावनाओं को समझ कर आगे बढ़ें तथा एक दूसरे पर किसी भी बात के लिए जोर ना डालें। आप किसी से प्रेम करते हैं तो, उनके महत्व को समझें और ना केवल समझें बल्कि उन्हें समझाएं कि वे आपके लिए महत्वपूर्ण हैं। यही भाव आपके प्रेम जीवन को पुष्पित और पल्लवित करेगा तथा आपकी लव लाइफ धीरे-धीरे आगे बढ़ेगी। यदि आप शादीशुदा हैं तो, आपको मिले-जुले परिणामों की प्राप्ति होगी। जीवनसाथी का स्वास्थ्य भी पीड़ित हो सकता है या फिर वह किसी आवश्यक कार्य वश आपसे दूर पर जा सकते हैं। ऐसे में कुछ समय के लिए आप एक दूसरे से दूर हो सकते हैं। इसके अतिरिक्त, आपका जीवन साथी कुछ मानसिक तनाव में भी रहेगा, जिन से बचने के लिए यदि वे आपसे बात नहीं भी करते हैं तो आप उनकी मनःस्थिति को समझ कर उनसे बातचीत करें, ताकि उनके मन में चल रही स्थितियों से उन्हें छुटकारा मिले और वे भी खुशी-खुशी दांपत्य जीवन में अपना योगदान दे पाएँ। संतान के लिए थोड़ी सी चिंता हो सकती है, लेकिन कोई बड़ी परेशानी वाली बात नहीं होगी। अपने दांपत्य जीवन को बेहतर बनाने के लिए आप आगे बढ़ें और समझदारी का परिचय दें।

सलाह: इस महीने आपको केतु से संबंधित कार्य करना चाहिए, जिसमें आपको मंगलवार के दिन अपने घर की सबसे ऊंची छत पर लाल रंग का ध्वजा अवश्य लगाएँ। इसके अतिरिक्त रविवार के दिन सूर्य मंत्र का जाप करें।

सामान्य: सिंह राशि के जातकों को मई के दौरान अपने विरोधियों पर हावी होने का मौका मिलेगा। हालांकि यह ध्यान रखें कि पूरे महीने वे आपके सिर पर रहेंगे, लेकिन फिर भी जीत नहीं पाएंगे। पिताजी से संबंधों को बेहतर बनाने का प्रयास करें और कोई कहासुनी हो भी जाए तो, उन्हें मना लें या माफी मांग लें, क्योंकि आपके पिता होने के कारण उनका आप पर हक है। भाग्य का आपको साथ मिलेगा और थोड़े से प्रयास करने से आपकी योजनाएं फलीभूत होकर आपको बेहतर नतीजे देंगी। इसके अलावा आप पूर्ण रुप से ऊर्जावान रहकर अपने सभी कार्यों को संपादित करेंगे और इससे ना केवल आपका मान और यश बढ़ेगा, बल्कि आपके निकटतम लोगों को भी आप पर गर्व का अनुभव होगा।

वित्त: आर्थिक दृष्टिकोण से मई का महीना आपके लिए कुछ चुनौतियाँ प्रस्तुत करेगा। इस महीने आपकी कितनी भी आमदनी हो, लेकिन आपके खर्चे अत्यधिक रहेंगे, जिनकी वजह से आपकी आर्थिक स्थिति पर असर पड़ सकता है। इस महीने उच्च अवस्था में बैठा एकादश भाव का राहु आपकी आमदनी को बढ़ाने में पूरा योगदान देगा और केवल इतना ही नहीं आपके सामने नई-नई अपॉर्चुनिटी लेकर आएगा, जिनको अपना कर आप आर्थिक तौर पर काफी हद तक ऊपर की ओर बढ़ सकते हैं। इसके साथ ही नवम भाव में बैठा उच्च का सूर्य आपके मान सम्मान में भी वृद्धि कराएगा और साथ ही साथ आपको अपने पिताजी से भी धन लाभ की स्थिति बन सकती है। वहीं दूसरी ओर मंगल, शनि और बृहस्पति जो छठे भाव में बैठकर द्वादश भाव को देख रहे हैं, आपको व्यर्थ के खर्चों में भी डाल कर परेशान कर सकते हैं। इस दौरान कोर्ट, कचहरी से संबंधित मामलों में आपको विजय तो मिल सकती है, लेकिन उन पर आपको अच्छा खासा धन भी खर्च करना पड़ सकता है और केवल इतना ही नहीं, स्वास्थ्य के मामले में भी कुछ खर्चे हो सकते हैं, लेकिन आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आमदनी आपकी अधिक ही रहेगी।निवेश सोच समझ कर करना ही ठीक रहेगा।

पारिवारिक: यदि आपके पारिवारिक जीवन के बात की जाए तो, यह मान कर चलिए कि आपका कुटुम्ब आपके भाग्य के साथ जुड़ा रहेगा। यानि कि वे आपको आगे बढ़ने में अपनी ओर से समस्त सहयोग देंगे। परिवार का वातावरण भी अच्छा रहेगा और चतुर्थ भाव पर पड़ रही शुक्र की दृष्टि माता-पिता को अच्छा व्यवहार प्रदान करेगी तथा परिवार के लोग एक दूसरे के प्रति स्नेह और प्रेम का भाव रखेंगे। नवम भाव में उपस्थित सूर्य पिताजी के लिए थोड़ा कष्ट पूर्ण हो सकता है और इस समय उन्हें कोई शारीरिक कष्ट हो सकता है अथवा आपकी उनसे कहा सुनी हो सकती है। इस ओर ध्यान दें। चतुर्थ भाव का स्वामी मंगल छठे भाव में बैठा है। ऐसे में प्रॉपर्टी संबंधित कोई विवाद जन्म ले सकता है, लेकिन यदि आप थोड़ी सी प्रतीक्षा करें तो, पहले हफ्ते में ही मंगल का गोचर आपके सप्तम भाव में हो जाएगा, जिसके बाद स्थितियों में बदलाव आएगा और धीरे-धीरे परिवार का वातावरण और भी बेहतर होता चला जाएगा। छोटे भाई-बहनों से आपको सुख मिलेगा। मातृ पक्ष के लोगों से बहस हो सकती है।